More

    शाहीन बाग की बिल्किस बानो को किसने बताया “वंडर वूमेन”

    -

    आशिषा सिंह राजपूत, नई दिल्ली

    हॉलीवुड में वंडर वूमेन के नाम से प्रसिद्ध अभिनेत्री गैल गैडोटकी हाल ही में ‘वंडर वूमेन’ नाम से बहुचर्चित फिल्म की एक और कड़ी ‘वंडर वुमन 1984’ रिलीज हुई थी। जिसमें उन्होंने अपनी खूबसूरती और अदाकारी से लोगों का दिल जीत लिया है। यह फिल्म जब से बड़े पर्दे पर लोगों के बीच आई है, तब से चर्चाओं में हैं। लेकिन हाल फिलहाल इस फिल्म की चर्चा से ज्यादा फिल्म में मुख्य भूमिका “वंडर वुमन” का किरदार निभा रहीं हॉलीवुड अभिनेत्री गैल गैडोट अपने पोस्ट को लेकर तेजी से सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रही हैं।

    गैल गैडोट क्यों हो रही है सोशल मीडिया पर ट्रोल?

    गैल गैडोट ने अपने सोशल मीडिया हैंडल इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट साझा की जिसे देखकर लोग हैरान हो गए। इस तस्वीर में गैल गैडोट ने शाहीन बाग में हुए CAA, NRC प्रोटेस्ट में भाग लेने वाली दादी बिल्किस बानो की तस्वीर सांझा करते हुए कैप्शन में लिखा कि “2020 तक विदाई की बात, मेरे पूरे प्यार के साथ #MyPersonalWWderderWomen पर। कुछ मेरे सबसे करीबी हैं – मेरा परिवार, मेरे दोस्त – कुछ प्रेरक महिलाएं हैं जिन्हें मैंने प्यार किया है, और कुछ असाधारण महिलाएं हैं जिनसे मुझे उम्मीद है। भविष्य में मिलते हैं। एक साथ, हम चमत्कार कर सकते हैं! अपने खुद के आश्चर्य महिलाओं को मेरे साथ साझा करें।”

    बता दें कि गैल गैडोट द्वारा शेयर की गई इस पोस्ट में बिलकिस बानो के अलावा गैल गैडोट की वंडर वुमन लिस्ट में प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न, अमेरिका की नई उपराष्ट्रपति कमला हैरिस, गैल गैडोत का परिवार और उनकी कुछ दोस्तों की तस्वीर भी शामिल है। दरअसल गैल गैडोट ने एक गलतफहमी का शिकार होकर बिलकिस बानो की तस्वीर पोस्ट की थी, उन्होंने अपने फिल्म का प्रचार प्रसार करने के लिए यह पोस्ट डाली थी क्योंकि उन्हें लगता था की बिलकिस महिलाओं के हित और लैंगिक समानता पर काम कर रही हैं। लेकिन पोस्ट डालते ही उन्हें सोशल मीडिया पर तेजी से ट्रोल किया जाने लग गया। गैडोट को इस मामले की जानकारी मिलते ही उन्होंने यह पोस्ट डिलीट कर दी।

    कौन है बिलकिस बानो?

    2020 साल के शुरुआती दिनों में शाहीन बाग में हुए नागरिकता संशोधन कानून (CAA, NRC के विरुद्ध प्रदर्शन में बिल्किस दादी खूब चर्चे में रही। 82 साल की बिल्किस बानो इस हद धरना प्रदर्शन किया कि उन्हें शाहीन बाग की दादी का जाने लग गया। बिलकिस बानो ने नागरिकता संशोधन कानून में धरना प्रदर्शन में प्रभावशाली तरीके से खासी उपस्थिति दर्ज करा कर लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा और खूब सुर्खियां बटोरी। बिल्किस दादी सुबह से लेकर रात तक धरना प्रदर्शन करती थी वहीं कड़ाके की ठंड में बुलंद आवाज में बार-बार प्रदर्शन जारी रखने की बात भी कहती रही। टाइम मैग्जीन के पत्रकार राणा अयूब द्वारा बिल्किस दादी का खास तौर पर जिक्र भी किया गया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Latest news

    Must Read

    You might also likeRELATED
    Recommended to you