मादीपुर मे “आप” के प्रदर्शन पर बड़ा संदेह, जानिए कारण

चुनावी डेस्क- दिल्ली कहने को तो देश की राजधानी है. लेकिन दिल्ली में भारी प्रदूषण दंश है. जो आमजन के लिए बड़ी दुविधा का विषय भी है, और जानलेवा भी है. या यूं कहें की चुनाव के मौके पर नेताओं के एक वादे में शुद्ध वायु भी एक मुद्दा है. जनता की भी है चाहत क्या इस बार के चुनाव में चाहत पूरी होगी. इस बात का सवाल है.

मादीपुर में 5 साल केजरीवाल सरकार रहने के बाद यह कमियां है. इलाके की कई सड़कें अभी तक बदहाल हैं, इससे आने जाने में परेशानी होती है. कई इलाकों में अभी भी सीवर लाइन नहीं बदली गई है.इलाके में पार्किंग नहीं होने से लोगों को परेशानी हो रही है.इलाके में अतिक्रमण के कारण आनेजाने में लोगों को परेशानी होती है.इलाके में प्रदूषण से निपटने के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत है.

गौरतलब है कि मादीपुर महिलाओं के चप्पल बनाने के लिए पूरे देश में जाना जाता है. यहां कई अवैध फैक्ट्रियां भी चल रही है. बीते दिनों आपने देखा था दिल्ली में आग लगने से 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. वह भी इसी तरह की एक अवैध फैक्ट्री का मामला था.

मादीपुर के स्थानीय लोगों का कहना है. बहुत प्रयास करने के बाद भी स्थानीय विधायक और केजरीवाल सरकार बुनियादी सुविधाओं के साथ प्रदूषण के अड्डे बन चुकी अवैध फैक्ट्रियों को अपने वोट बैंक के लिए चला रहे है.ऐसे में स्थानीय लोग आम आदमी पार्टी से नाराज है. इस बार अपना पाला बदल सकते है. इसलिए मादीपुर से आम आदमी पार्टी के लिए यह बुरी खबर है. इसका असर तो चुनाव के नतीजों में 11 फरवरी को देखने को मिलेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here